27.6 C
Dehradun
Monday, May 27, 2024
Homeउत्तराखंडबड़ी खबर ......स्पीकर का एक और सफल प्रयास, नहीं बनेगा नेपाली फ़ार्म...

बड़ी खबर ……स्पीकर का एक और सफल प्रयास, नहीं बनेगा नेपाली फ़ार्म टोल प्लाज़ा

हरिद्वार- देहरादून राष्ट्रीय राजमार्ग पर नेपाली फार्म तिराहे के पास प्रस्तावित टोल प्लाजा नहीं बनाये जाने का निर्णय लिया गया है, जिसकी जानकारी आज उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने प्रेस वार्ता के दौरान दी।
विधानसभा भवन, देहरादून में प्रेस को संबोधित करते हुए विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि हरिद्वार देहरादून राजमार्ग के नेपाली फॉर्म पर कोई भी टोल प्लाजा नहीं लगाया जाएगा,इस निर्णय के लिए विधानसभा अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री एवं सरकार का आभार व्यक्त किया है।विधानसभा अध्यक्ष ने टोल प्लाजा के विरोध में अनशन पर बैठे सभी राजनैतिक, सामाजिक संगठनों एवं प्रधान संगठन से धरने को समाप्त करने का आह्वान किया है।
विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि नेपाली फार्म तिराहे पर टोल प्लाजा लगाए जाने का मामला संज्ञान में आते ही उन्होंने शुरू से ही इस पर अपनी कड़ी आपत्ति जताई थी।जिसके लिए उन्होंने लगातार मुख्यमंत्री, केंद्रीय शिक्षा मंत्री एवं लोक निर्माण विभाग के सचिव व एनएचएआई के अधिकारियों के साथ वार्ता कर शीघ्र से शीघ्र इस मामले का समाधान करने की बात की थी।
विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि 24 मई को नेपाली फार्म तिराहे के पास टोल प्लाजा लगाए जाने का मामला उनके संज्ञान में आया था, 25 मई को उनके द्वारा मुख्यमंत्री एवं लोक निर्माण विभाग के सचिव आरके सुधांशु से वार्ता की गई थी, 26 मई को ग्राम प्रधानों के संगठन एवं मुख्यमंत्री से इस संबंध में चर्चा की गई थी, वहीं 27 मई को मुख्यमंत्री के साथ भेंटवार्ता के दौरान व केंद्रीय शिक्षा मंत्री से दूरभाष पर इस संबंध में बात की गई थी, 28 मई को उनके द्वारा लोक निर्माण विभाग के सचिव से इस समस्या का निदान करने के लिए कहा गया था। 3 जून को उनके द्वारा एनएचएआई के उच्च अधिकारियों के संग बैठक कर टोल प्लाजा लगाए जाने पर आपत्ति दर्ज करते हुए शीघ्र ही हटाए जाने के निर्देश किए गए वहीं 3 जून को लोक निर्माण विभाग के सचिव से अलग अलग चार बार इस संबंध में वार्ता की गई थी।श्री अग्रवाल ने कहा कि एक ही प्रोजेक्ट पर दो टोल प्लाजा लगाना कहीं से भी न्यायोचित नहीं है वहीं इस टोल प्लाजा के लगने से जहां एक और जनता को अनावश्यक आर्थिक बोझ पड़ता वही समय की भी बर्बादी होती।
विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री से बात करने के पश्चात निर्णय लिया गया है कि नेपाली फार्म तिराहे के पास कोई भी टोल प्लाजा नहीं लगाया जाएगा। अग्रवाल ने संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि इस संबंध में वह दिन प्रतिदिन लगातार प्रयासरत थे।उन्होंने कहा कि संविधानिक पद पर होने के नाते वह धरना स्थल पर नहीं जा सकते थे परंतु उन्हें अपनी जनता की लगातार चिंता बनी थी।
विधानसभा अध्यक्ष ने नेपाली फार्म तिराहे पर धरने पर बैठे सभी संगठन एवं राजनीतिक प्रतिनिधियों एवं अन्य लोगों से आह्वान किया है कि धरना समाप्त कर अब कोरोना जैसी विकट महामारी में एकजुट होकर जनता की सेवा करें।
इस अवसर पर डोईवाल के ब्लॉक प्रमुख भगवान सिंह पोखरियाल, ज़िला प्रधान संगठन के अध्यक्ष सोबन सिंह केंतुरा, खैरी कला प्रधान चमन पोखरियाल, जिला पंचायत सदस्य दिव्या बेलवाल, जिला पंचायत सदस्य रीना रांगड़, क्षेत्र पंचायत सदस्य अमर खत्री, पूर्व जिला पंचायत सदस्य देवेंद्र नेगी, भाजपा नेता रविंद्र राणा, संयुक्त यातायात रोटेशन के अध्यक्ष मनोज ध्यानी, सोशल मीडिया प्रभारी राजेश जुगलान, महिला मोर्चा मंडल अध्यक्ष संमा पवार, किसान मोर्चा महामंत्री हरदीप सिंह, समाज सेवी रमन रांगड, दिनेश पयाल, राज्य आंदोलनकारी चंद्रकांता बेलवाल, अरुण बडोनी सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments