11 C
Dehradun
Tuesday, February 20, 2024

spot_img
Homeउत्तराखंडजान जोखिम में डाल, कर रहें मानवता की अनमोल सेवा

जान जोखिम में डाल, कर रहें मानवता की अनमोल सेवा



कोरोना काल की मुश्किल घडी में ज़ब अपने अपनों का साथ छोड़ रहें हैँ तो लावारिश लाशों का संस्कार कर रही हैँ अनमोल मदद संस्था, अनमोल संस्था के ये कोरोना वेरियर्स नौजवान मानवता मानवता एवं इंसानियत की सेवा का अनमोल उदाहरण पेश कर रहें हैँ, एक ऐसी सेवा जिसका कोई मूल्य नहीं है l
कोरोना संक्रमण ने पुरे विश्व में पैर पसार चूका जिसने अपनों को अपनों से ही दूर कर दिया है, सगे संबंधी भी कोरोना संक्रमितों का संस्कार करने में नजदीक नहीं आ रहें हैँ वहीं ये माता पिता के लाडले इंसानियत का फर्ज निभाते हुए उन कोविड संक्रमित शरीरों का विधिविधान से संस्कार कर पुण्य का काम कर रहें हैँ l
संस्था के वरिष्ठ सदस्य स. रविन्दर सिंह आनन्द ने जानकारी देते हुए कहा कि कोरोना संक्रमत के पास जाने से मुँह मोड़ लेते हैँ तो इंसानियत के नाते यह काम करने का बीड़ा अपने साथियों के साथ उठाया जिसमें मेरा छोटा भाई गुजिन्दर सिंह आनन्द भी शामिल है एस डी एम के संदेश पर उनसे मिले उन्होंने 9 सदस्यी हमारी टीम को अधिकृत पत्र दिया तो हमें लोगों के संदेश आने लगे संस्कार के लिए उनकी एक काल पर एम्बुलेंस लेकर एवं किट आदि लेकर पहुंच जाते हैँ पहले सब ये आप जुटाना पड़ता था पर अब सरकार पूरा सहयोग कर रही है, हम उस परमात्मा को याद कर अरदास के साथ संस्कार कर देते हैँ l
संस्था के सदस्य पूर्व पार्षद स. संतोख सिंह नागपाल ने कहा कि अनमोल मदद संस्था जरूरतमंदों को राशन वितरण की सेवा भी निभा रही है मसूरी से ऊपर गांव खेड़ा में,डाट मन्दिर ने नीचे गाँव में पुरी टीम राशन वितरित करके आई है, घर वालों का साथ रहता है पर हिदायत बरतने के लिए अवश्य कहते हैँ l
नीरज ढींगरा ने कहा कि लोगों में दहसत है हमारे पास आने से भी डरते हैँ काल आने पर उनके घर से या हस्पताल से लाने का काम करते है अभिभावक से अथॉरिज्ड लैटर लेकर ही उनका विधिवत धर्म कर्म से संस्कार करते है, घर वालों के सहयोग पर कहा कि निश्चित तोर पर ज़ब उन्हें इस बारे पता चला तो चिंतित हुए पर ज़ब किसी काम को करने कि ठान लो तो कोई ताकत रोक नहीं सकती l
अनमोल मदद लगभग एक साल से निर्धन एवं बेसहारों कोरोना मृतकों के दाह संस्कार की सेवा निशुल्क करती आ रही है, अब प्रशासन द्वारा आधिकारिक रूप से सेवा के लिए अधिकृत किया गया है जो हमें सूचित करते हैँ शव को सील करके रायपुर स्थित कोविड स्थल पर ऐम्बुलेंस द्वारा ले जाकर शव का अरदास कर के संस्कार किया जाता है, अभी तक करीब 90 कोविड मृतकों का संस्कार कर चुके हैँ l
इस महान सेवा को करने वालों में स. रविन्दर सिंह आनन्द, पूर्व पार्षद स. संतोख सिंह नागपाल, नीरज ढींगरा, स. गुरजिन्दर सिंह आनन्द, स. हरदीप सिंह, अमरजीत सिंह कुकरेजा, अमित पारीख मिथुन रोथान, अभिषेक, शशि एवं अंतराष्ट्रीय शूटर दिलराज कौर शामिल है l



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

spot_img

Most Popular

Recent Comments